यूपी निकाय चुनाव में भाजपा की जीत का श्रेय पसमांदा मुस्लिमों कोः दानिश आजाद अंसारी

Story by  आवाज़ द वॉयस | Published by  [email protected] • 9 Months ago
 भाजपा की जीत का श्रेय पसमांदा मुस्लिमों कोः दानिश आजाद अंसारी
भाजपा की जीत का श्रेय पसमांदा मुस्लिमों कोः दानिश आजाद अंसारी

 

तुप्ति नाथ / नई दिल्ली

उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री दानिश आजाद अंसारी ने स्थानीय चुनावों में पार्टी के असाधारण प्रदर्शन का श्रेय मुस्लिम पसमांदा समुदाय तक भाजपा की पहुंच को दिया है. आवाज-द वॉयस को दिए एक विशेष टेलीफोनिक साक्षात्कार में, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में एकमात्र मुस्लिम चेहरा, अंसारी ने कहा कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व, विशेष रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पसमांदा समुदाय तक पहुंचने के निर्णय के परिणाम सामने आए हैं. .

उन्होंने कहा, ‘‘मुस्लिम समुदाय ने अब फैसला किया है कि वह केवल वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल नहीं होना चाहता. भारतीय जनता पार्टी के साथ जुड़ने का उनका फैसला दर्शाता है कि वे विकास में विश्वास करते हैं.

35 वर्षीय मंत्री अंसारी ने कहा कि उन्हें खुशी है कि पसमांदा मुस्लिम समुदाय को वोट देने के लिए बड़ी संख्या में सामने आए हैं. उन्होंने कहा कि चुनावों में पसमांदा समुदाय के मतदान ने बड़ी संख्या में सीटों से मुस्लिम उम्मीदवारों की जीत में योगदान दिया और भाजपा मतदान प्रतिशत भी बढ़ा है.

https://www.hindi.awazthevoice.in/upload/news/1683992634danish_azad_ansari.jpg

भाजपा ने इस बार अध्यक्ष पद के लिए अभूतपूर्व 20 और पार्षद पद के लिए 300 मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था. 50फीसदी से ज्यादा प्रत्याशी पसमांदा समुदाय के थे. जिन सीटों पर मुस्लिम उम्मीदवार नहीं जीत सके, वे दूसरे नंबर पर रहे हैं. 30फीसदी से ज्यादा टिकट मुस्लिम महिलाओं को दिए गए.

मंत्री अंसारी ने कहा कि दो महीने पहले उपयुक्त उम्मीदवारों की पहचान के लिए उन्होंने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पार्टी महासचिव धर्मपाल सैनी और राज्य पार्टी अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह के साथ विस्तृत चर्चा की थी.

अंसारी ने कहा कि वह इतने मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारने के लिए भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के शुक्रगुजार हैं. उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय ने भी समुदाय तक पहुंचने के लिए कई कदम उठाए हैं. इसमें मदरसों में विज्ञान और आधुनिक शिक्षा की शुरुआत शामिल थी. राज्य में बुनकरों के बिजली बिलों में कटौती. शारीरिक सशक्तिकरण के लिए एनसीसी और एनएसएस की शुरूआत. रोजगार मेलों का आयोजन किया गया, जिससे मुसलमानों खासकर पसमांदा युवाओं को खास राहत मिली है. भाजपा प्रदेश मीडिया सह प्रमुख ने कहा कि जीत असाधारण रही है. इस सफलता में मुस्लिम समुदाय का भी योगदान है.

 

ये भी पढ़ें