अफगानिस्तानः तालिबान की औरतों पर जुल्म की दास्तान वायरल

Story by  मलिक असगर हाशमी | Published by  [email protected] • 1 Months ago
अफगानिस्तानः तालिबान की औरतों पर जुल्म की दास्तान वायरल

आवाज द वॉयस/ नई दिल्ली

अफगानिस्तान में तालिबान अब अपने पुराने रंग में आ गए हैं.तकरीबन सवा साल पहले अमेरिकी फौज के अफगानिस्तान छोड़कर जाने और काबुल पर कब्जे के साथ तालिबानियों ने महिलाओं को नौकरी से निकाल दिया था और लड़कियों के लिए स्कूल, कॉलेज के दरवाजे बंद कर दिए थे. अब महिलाओं के सार्वजनिक उत्पीड़न की तस्वीरें भी सामने आने लगी हैं.

सोशल मीडिया पर कुछ दिल दहलाने वाली तस्वीरें वायरल हो रही हैं, जो एक दिन पहले अपलोड की गई हैं.यह वीडियो अफगानिस्तान के एक फुटबॉल स्टेडियम की है, जिसमें भारी भीड़ इकट्ठी कर 10महिलाओं और 17 पुरुषों को बुरी तरह पीटा गया.

एक वीडियो में कोड़े बरसाए जाने पर बुर्के में पूरी तरह लिपटी महिला बार-बार गिड़गिड़ाते नजर आ रही है-‘‘मर जाउंगी, मर जाउंगी.’’ इसके बावजूद पीटने वाले को रहम नहीं आई और निरंतर पीटता रहा.इस वीडियो के वायरल होने पर तालिबान की हर तरफ आलोचना हो रहा है. एक ने इसपर ट्वीट किया-‘‘अफगानिस्तान दुनिया का एकमात्र ऐसा देश है,

जहां अभी भी लड़कियों के स्कूल जाने पर प्रतिबंध है. तालिबान को लड़कियों को घर में रहने का आदेश दिए 438 दिन हो चुके हैं. हममें से प्रत्येक व्यक्ति जिसे बोलने की स्वतंत्रता है, उसे अपनी ओर नहीं देखना चाहिए. 21 वीं सदी में तालिबान की बर्बरता स्वीकार्य नहीं है.

कंचन गुप्ता ने लिखा है- कहते हैं, अफगानिस्तान में भारत की तुलना में कहीं अधिक ‘अकादमिक स्वतंत्रता’ है. मगर यह भयावहता है.उल्लेखनीय है कि हाल में तालिबान के अमीर ने देष के तमाम प्रांतों के जजों की एक बैठक में उन्हें इस्लामिक कानून के तहत जज्मेंट देने का निर्देष दिया था. इसके तुरंत बाद ही महिलाओं पर सार्वजनिक तौर से अत्याचार वाला वीडियो सामने आया है.