पटना : कांस्टेबल को हेयर ट्रांसप्लांट करवाना पड़ा महंगा, मौत

Story by  राकेश चौरासिया | Published by  [email protected] • 10 Months ago
प्रतीकात्मक चित्र

पटना. बिहार सैन्य पुलिस (बीएमपी) के एक कांस्टेबल का हेयर ट्रांसप्लांट के ठीक एक दिन बाद दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. यह जानकारी एक अधिकारी ने शनिवार को दी. मृतक के परिवार के सदस्यों ने दावा किया कि बुधवार को बोरिंग कैनाल रोड पर 'एन्हांस' नामक एक निजी क्लिनिक में उसका हेयर ट्रांसप्लांट हुआ और अगले दिन दवाओं के रिएक्शन के कारण उसकी मौत हो गई.


इस घटना के बाद निजी क्लिनिक के डॉक्टर और नर्सिग स्टाफ फरार हो गए हैं.

 

नालंदा जिले के राजगीर थाना अंतर्गत कमल बीघा गांव के मूल निवासी और गया में तैनात मनोरंजन पासवान हेयर ट्रांसप्लांट कराने के लिए पटना में थे.

 

हेयर ट्रांसप्लांट कराने के बाद जैसे ही पासवान घर लौटे, उन्हें त्वचा में खुजली होने लगी.

 

उनके दोस्त कमल कुमार अगले दिन उन्हें क्लिनिक ले गए लेकिन पासवान की तबीयत और बिगड़ गई, जिसके बाद क्लिनिक के स्टाफ सदस्य उसे एक निजी अस्पताल ले गए.

 

पुलिस के मुताबिक पासवान को आईसीयू में भर्ती कराया गया, जहां एक प्लास्टिक सर्जन, कार्डियक सर्जन, इंटरनल मेडिसिन और आईसीयू के विशेषज्ञ उनका इलाज कर रहे थे. हालांकि, एक घंटे बाद पासवान की मौत हो गई.

 

अस्पताल के डॉक्टरों ने दावा किया कि उन्हें बेहद गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया था.

 

एक डॉक्टर ने कहा, "हेयर ट्रांसप्लांट उपचार से उत्पन्न जटिलताओं के कारण उनकी मौत हो गई. यह अनुचित उपचार का मामला हो सकता है जिससे हेयर ट्रांसप्लांट के दौरान दवाओं का रिएक्शन हो सकती है."

 

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चला कि उनकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है.

 

पाटलिपुत्र कॉलोनी पुलिस स्टेशन के एसएचओ एसके शाही ने कहा, "हमने उसका विसरा सुरक्षित रखा है. विसरा की रिपोर्ट से उसकी मौत का सही कारण पता चलेगा."

 

उन्होंने कहा, "चूंकि क्लिनिक बोरिंग रोड पर स्थित है, हमने उसे एसके पुरी पुलिस स्टेशन में स्थानांतरित कर दिया है."

 

एसके पुरी थाने के एसएचओ सतीश सिंह ने कहा, मृतक के परिजनों ने लिखित शिकायत दी है और हम इसकी जांच कर रहे हैं.

 

पीड़ित की 11 मई को शादी होनी थी.