कश्मीरी लड़कियों को आकर्षित कर रही शतरंज और कैरम

Story by  राकेश चौरासिया | Published by  [email protected] • 1 Months ago
कश्मीरी लड़कियों को आकर्षित कर रही शतरंज और कैरम

श्रीनगर. श्रीनगर में महिला कॉलेज में शतरंज और कैरम चैंपियनशिप का आयोजन किया गया था, जिसमें कश्मीर घाटी में बड़ी संख्या में लड़कियों ने भाग लिया और अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया.

चौंपियनशिप का आयोजन कॉलेज के स्पोर्ट्स विंग द्वारा जम्मू और कश्मीर के युवा सेवा और खेल निदेशालय के सहयोग से किया गया था. शतरंज और कैरम सहित इनडोर खेल हमेशा सीमित समय में समाप्त होते हैं और इसलिए लड़कियां इन प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए आसानी से अपने समय का प्रबंधन कर सकती हैं. लड़कियां अन्य इनडोर खेल गतिविधियों में भी भाग ले रही हैं. इस प्रकार का मंच प्रदान करने और घाटी में इन खेलों को बढ़ावा देने के लिए अधिकारी भी एक अद्भुत कदम उठाते हैं.

खेल निदेशक, महिला कॉलेज जेएस मेहता ने बताया, ‘‘हमारी इतनी भागीदारी है कि खिलाड़ियों के लिए कोई जगह नहीं थी. छात्र यहां खेलने आते हैं. हमने इंटर-ग्रुप मैच भी आयोजित किए और उनका चयन किया, हम उन छात्रों के लिए कोचिंग, एक कमरा और अभ्यास के लिए एक कैरम देते हैं, जो चयनित नहीं थे. ताकि उन्हें भविष्य में खेलने का मौका मिल सके.’’

एक खिलाड़ी ने कहा, ‘‘इन खेलों का लाभ यह है कि हमें कोई चोट नहीं लगती है. अन्य खेलों में चोट लगने की संभावना होती है. वे दिमाग से खेले जाते हैं. जितना अधिक हम खेलों पर ध्यान केंद्रित करेंगे, हमें आगे बढ़ने का मौका मिलेगा.’’

एक अन्य खिलाड़ी ने कहा, ‘‘इन इनडोर खेलों के बारे में बहुत गलत धारणा है. कई लोग सोचते हैं कि इन खेलों में कोई करियर नहीं होगा. लोग अब जानते हैं कि ये खेल राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेले जाते हैं. विश्व कप के मैच भी होते हैं.’’

पिछले कुछ सालों से लड़कियां इंडोर खेल गतिविधियों में बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही हैं, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं. अधिकारी बड़े पैमाने पर युवा प्रतिभाओं को आकर्षित करने के लिए इंडोर खेलों पर भी ध्यान दे रहे हैं और विभिन्न टूर्नामेंट और चौंपियनशिप आयोजित कर रहे हैं.