चर्चा हर विषय पर हो, मगर संसद की गरिमा बनी रहे: मोदी

Story by  एटीवी | Published by  [email protected] • 1 Years ago
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन सभी राजनीतिक दलों से संसद सुचारू रूप से चलने देने की अपील करते हुए कहा है कि सरकार हर विषय पर चर्चा करने के लिए, खुली चर्चा के लिए तैयार है.

 
संसद सत्र के पहले दिन मीडिया से बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सरकार हर सवाल का जवाब देने को तैयार है. उन्होंने सदन में देशहित और राष्ट्रहित पर चर्चा की बात कहते हुए कहा कि संसद में सवाल भी हो और शांति भी होनी चाहिए.
 
विरोधी दलों से सदन को सुचारू रूप से चलने देने की अपील करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार के खिलाफ जितनी आवाज बुलंद करनी चाहिए, विरोधी दल करें लेकिन इसके साथ ही उन्होंने सभी से संसद की गरिमा का भी ध्यान रखने की अपील की.
 
सत्र के पहले दिन मीडिया से बात करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है और इसे लेकर देश भर में कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है.
 
उन्होंने संसद के इस सत्र को अत्यंत महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि हम चाहेंगे कि ये सत्र और आगे आने वाला सत्र भी आजादी के दीवानों की भावना के अनुकूल चले. संसद में देशहित की चचार्एं हो. उन्होंने कहा कि संसद का मानदंड यह नहीं हो सकता कि किसने काम रोक दिया बल्कि संसद का मानदंड यह होना चाहिए कि कितने घंटे काम हुआ, कितना सकारात्मक काम हुआ.
 
कोरोना के रिकॉर्ड टीकाकरण का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने नए वेरिएंट को लेकर सबसे सतर्क रहने की भी अपील की.
 
आपको बता दें कि सोमवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर लोकसभा में कृषि कानून निरसन विधेयक, 2021 पेश करने जा रहे हैं लेकिन विपक्ष एमएसपी पर कानून बनाने और आंदोलन के दौरान मरे किसानों को मुआवजा देने की मांग पर अड़ा हुआ है.