मध्य प्रदेशः जमीयत अल-मंसूर में बुद्धिजीवी बोले- राष्ट्र के विकास के लिए शिक्षा बेहतर रास्ता

Story by  आवाज़ द वॉयस | Published by  [email protected] | Date 11-09-2023
मध्य प्रदेशः जमीयत अल-मंसूर में बुद्धिजीवी बोले- राष्ट्र के विकास के लिए शिक्षा बेहतर रास्ता
मध्य प्रदेशः जमीयत अल-मंसूर में बुद्धिजीवी बोले- राष्ट्र के विकास के लिए शिक्षा बेहतर रास्ता

 

गुलाम कादिर / भोपाल

शिक्षा राष्ट्रों के उत्थान और पतन में नींव की भूमिका निभाती है. जिन राष्ट्रों ने शिक्षा को अपने सीने से लगाया और कड़ी मेहनत करके ज्ञान प्राप्त किया उनका विश्व पर एकाधिकार है और जिन राष्ट्रों ने शिक्षा की उपेक्षा की उन्हें न केवल अपमानित होना पड़ रहा है.

उन्हें पिछड़ेपन झेलना पड़ता है. भोपाल के जमीयत अल-मंसूर द्वारा आयोजित छात्र सम्मान में बुद्धिजीवियों ने ये विचार व्यक्त किए. इस मौके पर बोर्ड परीक्षा एवं अन्य परीक्षाओं में उत्कृष्ट सफलता हालिस करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित भी किया गया.
 
जमीयत अल मंसूर मध्य प्रदेश के प्रदेश प्रभारी जाहिद मंसूरी ने कहा कि जिस तरह मानव अस्तित्व के लिए सांस लेना बहुत जरूरी है, उसी तरह मानव सभ्यता और अस्तित्व के लिए शिक्षा बहुत जरूरी है. मुस्लिम समाज के छात्र शिक्षा के प्रति जागरूक हो रहे हैं, लेकिन हम चाहते हैं कि मुस्लिम समाज में 100 प्रतिशत शिक्षा हो.
 
उसके बाद देश में 100 प्रतिशत शिक्षा हो, जहां इकरा से शिक्षा लेने की बात कही जाती है. आज हमें खुशी है कि बोर्ड परीक्षा एवं अन्य परीक्षाओं में उत्कृष्ट सफलता प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को भोपाल विधायक आरिफ मसूद एवं शहर काजी द्वारा शील्ड एवं मेडल देकर सम्मानित किया गया है.
 
यह प्रक्रिया आगे भी जारी रहेगी ताकि समाज के विद्यार्थियों में शिक्षा के प्रति जुनून पैदा हो और समाज विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए जो भी सुविधाएं संभव होगी उन्हें उपलब्ध कराने का काम करेगी.
 
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भोपाल विधायक आरिफ मसूद ने शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए मंसूरी समाज द्वारा उठाए गए कदम को समय की जरूरत बताया. आरिफ मसूद ने अपने संबोधन में छात्रों से मजहब के साथ आधुनिक विज्ञान भी सीखने का आग्रह किया. छात्रों को हर तरह की सुविधाएं मुहैया कराने की भी घोषणा की.
 
कार्यक्रम के अध्यक्ष और भोपाल शहर के काजी सैयद मुश्ताक अली नदवी ने कहा कि इस्लाम में शिक्षा की बड़ी खूबी बताई गई है. शिक्षा मनुष्य के लिए मार्गदर्शक का कार्य करती है.
 
हमें पहले कुरान की शिक्षा और फिर अन्य शिक्षा हासिल करनी चाहिए ताकि हमारी सेवाएं समाज और देश के विकास में प्रमुख हो सकें. मैं जाहिद मंसूरी और उनके सभी दोस्तों को मुस्लिम छात्रों की शिक्षा की चिंता करने के लिए धन्यवाद देता हूं. हमें यह सुनिश्चित करने का प्रयास करना चाहिए कि शिक्षा के सभी क्षेत्रों में हमारा प्रतिनिधित्व हो.


Tazia in Muharram
इतिहास-संस्कृति
  Muharram
इतिहास-संस्कृति
Battle of Karbala
इतिहास-संस्कृति