गैंगस्टर बिश्नोई, भगवानपुरिया ने कनाडा में खालिस्तानी सुक्‍खा दुनेके की हत्या की जिम्मेदारी ली

Story by  एटीवी | Published by  [email protected] | Date 21-09-2023
Lawrence Bishnoi
Lawrence Bishnoi

 

चंडीगढ़. प्रतिद्वंद्वी गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और जग्गू भगवानपुरिया ने गुरुवार को पंजाब मूल के वांटेड गैंगस्‍टर और प्रवासी भारतीय सुक्खा दुनेके की हत्या की जिम्मेदारी के अलग-अलग दावे किये. दुनेके को कनाडा के विन्निपेग में गोली मार दी गई थी. सुखदूल सिंह उर्फ सुक्‍खा दुनेके कनाडा में खालिस्तान आंदोलन का हिस्सा था. ऐसा माना जाता है कि वह बंबीहा गिरोह का सहयोगी था और पंजाब पुलिस को जबरन वसूली, हत्या के प्रयास और हत्या के मामलों में उसकी तलाश थी.

बिश्नोई ने एक पोस्ट में लिखा, ''सुखदूल ने हमारे भाई गुरलाल बराड़ की हत्या की थी और विक्की मिद्दुखेड़ा के साथ-साथ कबड्डी खिलाड़ी संदीप नागल अंबियान की हत्या के पीछे भी उसका हाथ था.'' इसी तरह, एक अन्य सोशल मीडिया पोस्ट में, पंजाब के एक अन्य गैंगस्टर भगवानपुरिया, जो कभी बिश्नोई का करीबी सहयोगी था, ने यह कहकर हत्या की जिम्मेदारी ली कि उसने अंबियान का बदला लिया है.

पंजाब में देविंदर बंबीहा गैंग का सहयोगी दुनेके फर्जी दस्तावेजों पर 2017 में कनाडा भाग गया था. उसका नाम राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) द्वारा बुधवार को जारी 43 गैंगस्टरों की सूची में शामिल था, जिसमें उसकी अवैध संपत्तियों के बारे में जानकारी मांगी गई थी. उसकी हत्या बुधवार रात उसी अंदाज में की गई जिस तरह जून में सरे में अंतर-गैंग युद्ध में आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या हुई थी. हालाँकि, आईएएनएस ने टिप्पणी के लिए पंजाब पुलिस के अधिकारियों से संपर्क किया, लेकिन उन्होंने अंतर-गिरोह प्रतिद्वंद्विता के कारण हत्या पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.

 

ये भी पढ़ें :   बुनियादी ढांचा सुधारने में भारत की लंबी छलांग



Tazia in Muharram
इतिहास-संस्कृति
  Muharram
इतिहास-संस्कृति
Battle of Karbala
इतिहास-संस्कृति