Jashn-e-Rekhta 2023: तीन दिवसीय महफिल तैयार, आज से बहेगी अदब की बयार

Story by  ओनिका माहेश्वरी | Published by  onikamaheshwari • 2 Months ago
Jashn-e-Rekhta 2023: Three-day literary festival is ready, know what will happen when?
Jashn-e-Rekhta 2023: Three-day literary festival is ready, know what will happen when?

 

ओनिका माहेश्वरी/ नई दिल्ली 

जश्न-ए-रेख्ता, तीन दिवसीय उत्सव, ग़ज़ल, सूफी संगीत, कव्वाली, दास्तानगोई, कविता संगोष्ठी और गायन, सेलिब्रिटी वार्तालाप, मास्टरक्लास और बहुत कुछ सहित विविध कला रूपों के माध्यम से उर्दू भाषा और हिंदुस्तानी संस्कृति का एक जीवंत उत्सव है. 2023 में आगामी जश्न-ए-रेख्ता 8 दिसंबर से 10 दिसंबर तक दिल्ली में होने वाला है. जश्न ए रेख्ता तीन दिवसीय त्यौहार है. इस आयोजन में उर्दू भाषा को संरक्षित करने का प्रयास किया जाता है. रेख्ता फाउंडेशन पिछले कई वर्षों से कई भाषाओं के संरक्षण और संवर्धन में लगा हुआ है. जश्न ए रेख्ता दुनिया का सबसे बड़ा उर्दू भाषा कार्यक्रम है. इस कार्यक्रम का आगाज़ साल 2013 में शुरु किया गया था.
 
इस आयोजन में भाषा और संस्कृति को बढ़ावा देने का उद्देश्य है. इस आयोजन में उर्दू भाषा को उसके बहुआयामी स्वरूप का सम्मान दिया जाता है. इस कार्यक्रम में आपको सूफी गीत कव्वाली गीत सूफी धुन आदि के अलावा उर्दू भाषा के कई रूप देखने को मिलेंगे.
 
जश्न ए रेख्ता 2023 मुख्य कार्यक्रम: 
महफ़िल खाना एक सांस्कृतिक उत्सव
सुखन-ज़ार अनप्लग्ड और अनसुना
बज़्म-ए-ख्याल साहित्यकारों की महफ़िल
दयार-ए-इज़हार कला रूपों की अभिव्यक्ति
ऐवान-ए-ज़ैक़ा खाद्य महोत्सव
रेख्ता बाज़ार किताबें, माल और बहुत कुछ  
 
पहले दिन का कार्यक्रम (8 दिसंबर 2023, शुक्रवार):
 
महफिल-खाना 
 
रेख्ता फाउंडेशन के संस्थापक संजीव सर्राफ का उद्घाटन भाषण होगा 
इसके बाद रेख्ता लर्निंग का शुभारंभ होगा 
फिर संजीव सराफ और हुमा खलील जो रेख्ता फाउंडेशन के ट्रस्टी हैं उनकी झलक 
जावेद अख्तर, विशाल भारद्वाज और रेखा भारद्वाज द्वारा ग़ज़ल, सूफी, सस्वर पाठ होगा  
 
दूसरे दिन का कार्यक्रम (9 दिसंबर 2023, शनिवार):
 
महफिल-खाना 
उर्दू कविता और सेकुलरिज्म टॉपिक पर जावेद अख्तर के साथ सेफ महमूद की खास बातचीत
 
बज़्म ए ख्याल
उर्दू की कवितायों पर 
अभिषेक शुक्ला और महेंद्र कुमार सैनी की खास वार्तालाप

दयार ए इज़हार
उस्ताद असग़र हुसेन द्वारा सूफी वायलिन की पेशकश
 
सुखन जार
खुली नाशीषत ( उर्दू पोएट्री)
 
जिंदगी और शायरी 
मुजफ्फर अली और मीरा अली की शिरकत
 
उर्दू पोएट्री और विकास
उर्दू में तरक्की पर बातचीत करेंगे
गौहर रजा, नजमा रहमानी, अनवर पाशा, सुहैल अख्तर
 
हमारे नग्मों की जान उर्दू
इस विषय पर बातचीत करेंगे वरुण ग्रोवर और स्वानंद किरकिरे, नगमा सहर भी होंगी साथ
 
आवाज़ों का नया आसमान
शहनाज़ मुजीब, मानसा, डॉ. हैदर  सेफ और कुशाग्र जोशी की सिंगिंग परफॉर्मेंस
 
सुर, साज, सितार
शुजात खान द्वारा सितार वादन
 
तर्जुमा
हासिल और ला हासिल अनुवाद पर याकूब यावर, अतहर फारूकी, नसीब खान, माजबींन बिलाल की खास बातचीत
 
किस्सागोई
उर्दू की खोई कहानी पेश करेंगे सलीम शाह
 
इश्क़ का सवादनामा
आमिर अजहर खान की शिरकत
 
कहानी के किरदार तक 
उर्दू के सौंदर्य पर सुधीर मिश्रा, अनुराग कश्यप के साथ आतीका फारूकी की खास बातचीत
 
उर्दू और हिंदी के क़ुरबातेँ और फासले 
बातचीत करेंगे गीतांजली श्री, रहमान अब्बास और सीमा चिष्ती
 
उर्दू शायरी के धानक रंग
कामना प्रसाद और मीनू बक्शी की सिंगिंग ड्रामेटिक रचना
 
सबरी ब्रोडर्स द्वारा क़व्वाली

तानीसी ताहरीरें
फेमिनिस्ट राइटिंग पर सरवत खान, शहनाज़ नाबी, नईमा जाफरी, शगुफ्ता यास्मीन के साथ   करेंगे बात
 
रहमान खान द्वारा हुमारबाज नाटक की प्रस्तुति

रेख्ता मुशायरा में शामिल होंगे
वसीम बरेलवी, जावेद अख्तर, इकबाल अशरार, नुसरत मेहंदी, मीनू बक्शी, अबरार काशिफ, आदील मुस्तक़ीम, मनीष शुक्ला, आलोक श्रीवास्तव, नदीम शाद, इरशाद खान, कोसर खालिद
 
तीसरे दिन का कार्यक्रम (10 दिसंबर 2023, रविवार):
 
दस्ताने मीर द्वारा 300 साल का मीर ताकी मीर सेलिब्रेशन
महमूद फ़ारूक़ी और डैरेन शहीदी
 
एडमिनिस्ट्रेशन और मीडिया में उर्दू
विषय पर बात करेंगे ताहिर महमूद, नजीब जंग, सालमा सुल्तान और कुर्बान अली
 
बहारें नगमा 
सुप्रिया जोशी और मोइन शादाब द्वारा सिंगिंग परफॉर्मेन्स
 
उर्दू लव पोएट्री
नादिरा ज़हीर बाबर द्वारा नाटक प्रस्तुती 
 
मुग़ल पोएट प्रिंस
विलियम के साथ नवजीत सारना
 
बज़्म ए नौ बहार
अज़हर नवाज, फैसल फहमी, हर्षित मिश्रा, हिना अब्बास, पल्लव मिश्रा, प्रियंवदा इल्हान, सलमान सईद, शीराज खान, उबैद नजीबाबादी द्वारा मुशायरा 
 
यहां से बुक कर सकते है टिकट
जश्न-ए-रेख़्ता की महफ़िल का अगर आप लुफ्त उठाना चाहते हैं, तो हम आपको बताते की इस इवेंट का टिकट आप इसकी की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना टिकट बुक कर सकते हैं. इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए टिकट की न्यूनतम कीमत 300 रुपए तक की रखी गई है.
 
कैसे पहुंचें:
ये इवेंट इंडिया गेट के पास स्थित मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में होने वाला है. आपको बता दें कि यहां पर पहुंचने के लिए सबसे आसान रास्ता मेट्रो का है. आपको ब्लु लाइन पकड़ कर सुप्रिम कोर्ट मेट्रो स्टेशन पहुचना हैं और जब आप गेट नम्बर 3 से बाहर निकलेंगे तो कुछ ही दुरी पर मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम है.