विश्व बंधुत्व, हिंदुत्व और हिंदुस्तान का मौलिक दर्शन : डा. कृष्ण गोपाल