‘गंगाजी में नहाया, सामने मस्जिद है, नमाज पढ़ी और वहां से चले गए बाला जी मंदिर रियाज करने ’