बोरिस जॉनसन को घेरने के लिए एक साथ आए भारतीय और पाकिस्तानी मूल के ब्रिटेन के मंत्री