यह पीओके को वापस लेने का समय हैः हरीश रावत

Story by  राकेश चौरासिया | Published by  [email protected] • 1 Months ago
यह पीओके को वापस लेने का समय हैः हरीश रावत

नई दिल्ली. पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) पर पाकिस्तान के नए सेना प्रमुख असीम मुनीर के बयान पर करारा जवाब देते हुए कांग्रेस नेता हरीश रावत ने रविवार को कहा कि यह पीओके वापस लेने का समय है.

रावत ने कहा कि फिलहाल पाकिस्तान कमजोर स्थिति में है और यही वह वक्त है, जब हम पाकिस्तान से पीओके ले सकते हैं. हरीश रावत ने कहा, ‘‘पीओके को पाकिस्तान के अवैध कब्जे से मुक्त कराना हमारी जिम्मेदारी है. हमने कांग्रेस सरकार के समय संसद में प्रस्ताव पारित किया था. अब मोदी सरकार को इसे भी अपने एजेंडे में शामिल करना चाहिए. कमजोर स्थिति में, यही वह समय है जब हम पाकिस्तान से पीओके ले सकते हैं.’’

उत्तरी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल उपेंद्र द्विवेदी के बयान का उल्लेख करते हुए कि भारतीय सेना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को वापस लेने जैसे आदेशों को पूरा करने के लिए तैयार है. सीओएएस जनरल सैयद असीम मुनीर ने अपनी नियुक्ति के एक सप्ताह के भीतर कहा कि अगर उनके देश पर हमला किया जाता है, तो प्रतिष्ठान अपनी ‘मातृभूमि’ की रक्षा करें और दुश्मन से भी लड़ें.

इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ने असीम मुनीर को यह कहते हुए उद्धृत किया, ‘‘मैं यह स्पष्ट रूप से स्पष्ट कर दूं, पाकिस्तान की सशस्त्र सेना न केवल हमारी मातृभूमि के एक-एक इंच की रक्षा के लिए, बल्कि दुश्मन से लड़ाई वापस लेने के लिए भी तैयार है, यदि कभी भी, युद्ध हम पर थोपा जाता है.’’

पाक सेना प्रमुख ने कहा, किसी भी गलतफहमी के परिणामस्वरूप दुस्साहस का हमेशा हमारे सशस्त्र बलों की पूरी ताकत से मुकाबला किया जाएगा, जिसे एक लचीले राष्ट्र का समर्थन प्राप्त है.

इससे पहले 28 अक्टूबर को, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) को वापस लेने के लिए नई दिल्ली के संकल्प को दोहराया और कहा कि सभी शरणार्थी अपनी जमीन और घर वापस कर देंगे.