फिल्म समीक्षाः गतिहीन तूफान, उम्दा फरहान