जयपुर म्यूजिक स्टेज 2024 प्रारंभ, अलिफ मोहम्मद मुनीम देंगे प्रस्तुति

Story by  आवाज़ द वॉयस | Published by  [email protected] • 3 Months ago
Jaipur Music Stage 2024 starts, Alif Mohammad Munim will perform
Jaipur Music Stage 2024 starts, Alif Mohammad Munim will perform

 

फरहान इसराइली /जयपुर

राजस्थान की राजधानी जयपुर का मशहूर ‘जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल’ का 17 वां संस्करण प्रारंभ हो गया है. इसमें जयपुर म्यूजिक स्टेज भी अपने बेमिसाल सितारों के संग ‘ बड़े साहित्यिक शो’ के साथ तैयार है. इस दौरान भारत के प्रतिभाशाली कलाकार अपनी प्रस्तुति देंगे.

कार्यक्रम में जाने-माने गायक, गीतकार और कवि अलिफ उर्फ मोहम्मद मुनीम पहली शाम को परफॉर्म करेंगे. अलिफ को बहुत से पुरस्कारों से नवाजा गया है, जिनमें प्रमुख है, सिंगल ललनावत के लिए दादा साहेब फाल्के फिल्म फेस्टिवल अवार्ड, सिंगल लाइक ए सूफी के लिए आईआरएएस अवार्ड और राइड होम के लिए आईआईएमए ‘बेस्ट फोक सोंग’ अवार्ड. अलिफ हाल में कोक स्टूडियो भारत के सीजन 2 में शामिल हुए, जहां उन्होंने क्या करें को रिमोट गाया था.


music

इसके अनावा शाम की मधुर धुनों को आगे बढ़ाएंगे द तापी प्रोजेक्ट, जिसमें शामिल हैं योगेन्द्र सानियावाला (बेसगिटार, गीतकार, रचनाकार), स्वाति मिनाक्सी (स्वर), गौरव कपाड़िया (ड्रम्स) और बीजू नाम्बिअर (कीबोर्ड, बेस और ड्रम्स), फोक, ट्रिप-हॉप, जैज और फोक इंस्ट्रूमेंट के साथ ये बैंड दिल छू लेने वाली प्रस्तुति देंगे.  

जेएमएस की दूसरी शाम को प्रभ दीप परफॉर्म करेंगे. दिल्ली के रहने वाले प्रभ दीप बहुमुखी प्रतिभा के धनी हैं, जिन्होंने सुरों के माध्यम से स्टोरीटेलिंग में अपनी अलग पहचान बनाई है. ‘क्लास-सिख’ दीप का आत्म कथात्मक प्रोजेक्ट है, लेकिन इसके क्राॅफ्ट और खूबसूरती ने बड़े पैमाने पर श्रोताओं को मोहित किया है.

ऐसा ही प्रभाव उनके ‘किंग’ और ‘तबिया’ प्रोजेक्ट्स का भी रहा, फेस्टिवल की दूसरी शाम को द री विजिट प्रोजेक्ट की भी प्रस्तुति होगी. इस बैंड की खासियत जैज की भिन्न रूपों में प्रस्तुति है. 2014 में बने इस ग्रुप ने हिन्दी फिल्म म्यूजिक की लुप्त परम्परा को समकालीन फंक व जैज के साथ प्रस्तुत किया.

जेएमएस की आखरी शाम में जाने-माने गायक-गीतकार हरप्रीत और सलमान इलाही प्रस्तुति देंगे.हरप्रीत हरफनमौला कलाकार हैं. वो हिंदी, पंजाबी, बंगाली, असमी, राजस्थानी और हरियाणवी के गाने गाते हैं.उनकी पहचान मुख्य रूप से कबीर और बुल्ले शाह के दमदार शब्दों को अपनी आवाज देने की है.

jaipur

मुंबई में रहने वाले संगीतकार सलमान इलाही की मधुर आवाज को उनके लोकप्रिय गीत ‘ पहाड़ों में’ के माध्यम से 20 मिलियन से ज्यादा लोगों ने सुना. मुख्य रूप से उर्दू-हिन्दी में लिखने और गाने वाले इलाही के लिए संगीत अपने विचारों को व्यक्त करने और आत्म-खोज का माध्यम है.

इसी शाम बैंड वेन चाय मेट टोस्ट भी अपनी धुनों से श्रोताओं को झूमने पर मजबूर करेंगे. इस बैंड में शामिल हैं गायक अश्विन गोपाल कुमार, गिटारिस्ट अच्युत जय गोपाल, की बोर्ड प्लेयर पाली फ्रांसिस और ड्रमर पाई शैलेश.

2016 में बने इस बैंड की पहली एल्बम थी ‘जॉय ऑफ लिटिल थिंग्स’, जिसने अपने बहुभाषी शब्दों, खूबसूरत कोरस और फोक इंस्ट्रूमेंट्स की बदौलत तुरंत श्रोताओं का दिल जीत लिया था.जयपुर म्यूजिक स्टेज की तीनों शाम ‘नाईट बाजार’ के नाम भी रहेंगी, जहां विविध मर्चेंडाइज के साथ, विविध वाद्य यंत्र, म्यूजिक टेक्नोलॉजी आदि भी प्रस्तुत रहेगी.