सामूहिक निकाह सम्मेलनमें 46 जोड़ों ने एक-दूसरे को किया कुबूल

Story by  आवाज़ द वॉयस | Published by  [email protected] • 3 Months ago
46 couples accepted each other in mass Nikah conference
46 couples accepted each other in mass Nikah conference

 

  फरहान इसराइली / जोधपुर.

कौम मेड़ती सिलावटान विकास समिति, जोधपुर की ओर से कौम सिलावटान का 23वां सामूहिक विवाह 5 वी रोड ईदगाह परिसर में समाज के 11 हजार लोगों की मौजूदगी में सम्पन्न हुआ. इस इज़्तिमाई शादी की खासियत ये रही कि एक दम कम खर्च वाली सादगी का निकाह हुआ.

सभी जोड़ो ने नबी मुहम्मद सल्लल्लाहों अलैहेवसल्लम कीसुन्नत को अपनाते हुए कम खर्च वाले सादगी के निकाह का पैगाम दिया.  इन शादियों में सभी 46 दुल्हे आस-पास की जगहों के थे, जो पैदल आआए. जो कुछ दूर सेआ आए, वो कार से , लेकिन निकाहस्थल पर पैदल आआए.

शादी मे बिल्कुल सादगी रही. बैण्ड बाजे, डीजे व पटाखे इस्तेमाल नहीं किए गए. सामूहिक विवाह सम्मेलन कमेटी के अध्यक्ष अनवर सिसोदिया ने बताया कि मौलाना अब्दुल्लाह अशरफ नूरी, मौलाना लियाकत, मौलाना अब्दुलकरीम व प्रोफेसर अब्दुल हई ने इस्लामी तरीके से कौम के 46 जोड़ो का निकाह पढ़ाया. 

muslim nikah

उन्होंने कहा कि इस सम्मेलन में अधिकतर दुल्हों ने दहेज न लेकर नबी मुहम्मद सल्लल्लाहो अलैहे वसल्लम की सुन्नत पर अमल करते हुए सादगी से निकाह का संदेश दिया. सामूहिक विवाह सम्मेलन कमेटी के सचिव डॉ. अब्दुल्लाह खालिद ने फिजुलखर्ची, दहेज प्रथा कोरोकने व समाज के उत्थान के लिए सामुहिक शादी को आज की सब से बड़ी जरूरत बताते हुए कहा, “इस सम्मेलन में समाज के सभी लोगों ने ईमानदारीसे अपना फर्ज निभाया.”

सामूहिक विवाह सम्मेलन कमेटी के कोषाध्यक्ष अब्दुल वाहिद ने कहा, “ अन्य समाजों को कम खर्चे का अनूठा संदेश देने के लिए पिछले करीब 23 सालों से हमारी कौम 2 दिन के इस सम्मेलन में पूरे समाज के लिए पहले दिन शादी का सामूहिक खाना और दूसरे दिन सभी दूल्हों की तरफसे सामूहिक वलीमे (रिसेप्शन) के खाने का आयोजन करती है, ताकि दूल्हा-दुल्हन के अलग-अलग परिवारों के खानों मेंलाखों की फिजूल खर्ची व वक्त की बर्बादी न हो. 

इस खाने में शहर के मुस्लिम व गैर मुस्लिम विभिन्न समाजों के लोग व सरकारी आला अधिकारी भी शिरकत करते है. कौम सिलावटान के युवा नेता व वार्ड 17 पार्षद जाहिद चौहान ने बताया कि बिना बैण्ड-बाजे, पटाखें व डीजे के पैदलसादगी से आये इन नवविवाहित दुल्हा-दुल्हन को नई खुशहाल जिंदगी की दुआएं व आर्शीवाददेने के लिए सूरसागर विधानसभा प्रत्याशी शहजाद खान, शहर एमएलए मनीषा पंवार, पूर्व पार्षद साजिद खताई, डॉ. आदम सिसोदिया, पार्षद हुमैरा अरशद चौहान के साथ जोधपुर के कई समाजसेवी एवं जनप्रतिनिधि मौजूदरहे.

muslim nikah

 इस सम्मेलन यादगार एवं कामयाब बनाने के लिए राब्ता कमेटी चेयरमैन मोहम्मद समीर, उप चेयरमैन मोहम्मद हारिस, खाना कमेटी चेयरमैन मोहम्मद तसनीम, उपचेयरमैन मोहम्मद बरकत, उप चेयरमैन मोहम्मद जाकिर, खरीदारी कमेटी चेयरमैन मोहम्मद जावेद, उप चेयरमैन अब्दुल मोईन, उप चेयरमैन मोहम्मद बिलाल, बर्तन कमेटी चेयरमैन मोहम्मद सिकंदर, उप चेयरमैन कबीर, टेन्ट कमेटी चेयरमैन मोहम्मद अनीस, उप चेयरमैन मोहम्मद असलम, वॉलियन्टर कमेटी चेयरमैन मोहम्मद वकील, उप चेयरमैन मोहम्मद वसीम, मुम्बई के सलामताजक, अब्दुल मन्नान, इमरान लोदी, खिदमत-ए-खल्क कमेटी समस्त सदस्य सहित सामूहिक विवाह सम्मेलन कमेटी के समस्त सदस्यों एवं कौम मेड़ती सिलावट के युवा व बुजुर्गो का विशेष सहयोगरहा. 

इस सामूहिक विवाह मेंराजस्थान के विभिन्न जिलों समेत मुम्बई, अहमदाबाद, चेन्नई, व पूना के सिलावट समाज के कई प्रबुद्धजनों सहित शहर के कई गणमान्य लोगों ने भी शिरकत की. मंच संचालन डॉ. अब्दुल्लाह खालिद ने किया.