जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद अब बैसाखी पर : डीजीपी दिलबाग सिंह

Story by  एटीवी | Published by  [email protected] • 4 Months ago
डीजीपी दिलबाग सिंह

जम्मू. जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद खात्मे की कगार पर है, जबकि किश्तवाड़ जिले में यह लगभग शून्य पर पहुंच गया है. पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने सोमवार को ये दावा किया. एक आधिकारिक समारोह से इतर मीडिया से बात करते हुए डीजीपी ने कहा कि बाकी बचे आतंकवादियों को या तो जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा या मार दिया जाएगा. उन्होंने कहा, "किश्तवाड़ जिले में सिर्फ एक या दो सक्रिय आतंकवादी हैं, जिन्हें बहुत जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा या मार दिया जाएगा."

डीजीपी ने यह भी कहा कि जम्मू-कश्मीर में मनोरंजन के साधनों को फिर से पुनर्जीवित किया जा रहा है. रविवार को उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने दक्षिण कश्मीर के दो जिलों, पुलवामा और शोपियां का दौरा किया. उन्होंने मनोरंजन के साधन के रूप में युवाओं के लिए थिएटर सुविधाओं को बढ़ाने का आश्वासन दिया.

उन्होंने कहा, "श्रीनगर में जल्द ही मल्टीप्लेक्स सिनेमा हॉल होंगे, जो यहां के युवाओं के लिए मनोरंजन का एक बड़ा साधन होगा." "फिल्मों की एक लंबी सूची है, जिसे प्रसिद्ध निर्देशक जम्मू-कश्मीर में शूट करना चाहते हैं." उन्होंने कहा, "मुझे यकीन है कि वह समय दूर नहीं, जब जम्मू-कश्मीर के युवा खुद फिल्मों का निर्देशन करेंगे."

अलगाववादी हुर्रियत सम्मेलन पर एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हुर्रियत फिलहाल जम्मू-कश्मीर में कहीं नहीं है. उन्होंने कहा, "इस्तेमाल युवाओं को गुमराह करने के लिए किया जा सकता है और ऐसे संस्थानों पर नजर रखी जा रही है." डीजीपी ने यह भी रेखांकित किया कि पुलिस और अन्य सुरक्षा बल, नागरिक प्रशासन के अलावा, केंद्र शासित प्रदेश में शांति स्थापित करने के लिए दिन-रात काम कर रहे हैं.