कोर्ट की तरह आदेश जारी नहीं कर सकता काजी शरीयतः हाईकोर्ट