‘आपके कारण अफगान थोड़ा कम रोते हैं, थोड़ा और मुस्कराते हैं‘