रात में आता था घुड़सवार मौलवी, थर्रा उठते थे ब्रिटिश सैनिक और अफसर