पाकिस्तान में मुद्रा संकट की समस्या गहराई

Story by  ओनिका माहेश्वरी | Published by  onikamaheshwari • 2 Months ago
पाकिस्तान में मुद्रा संकट की समस्या गहराई
आवाज द वॉयस/ नई दिल्ली 
 
जापान के शीर्ष ब्रोकरेज और निवेश बैंक नोमुरा होल्डिंग्स ने चेतावनी दी है कि पाकिस्तान, मिस्र, रोमानिया, श्रीलंका, तुर्की, चेक गणराज्य और हंगरी में मुद्रा संकट का जोखिम है.
 
जियो न्यूज ने बताया कि जापानी बैंक ने कहा कि उसके इन-हाउस डैमोकल्स चेतावनी प्रणाली द्वारा कवर किए गए 32 देशों में से 22 में मुद्रा जोखिम में वृद्धि देखी है. चेक गणराज्य और ब्राजील में जोखिम की आशंका में वृद्धि हुई है.
 
जियो न्यूज के मुताबिक नोमुरा के अर्थशास्त्रियों ने कहा कि जुलाई 1999 के बाद से जोखिम की दर सबसे अधिक हो गई है. यह अशुभ संकेत है.
 
1996 के बाद से नोमुरा का अनुमान है कि 100 से ऊपर का स्कोर अगले 12 महीनों में मुद्रा संकट की 64 प्रतिशत संभावना को दर्शाता है.
 
जिओ न्यूज ने अनुमानों का हवाला देते हुए बताया कि मिस्र, जिसने पहले ही इस साल अपनी मुद्रा का दो बार भारी अवमूल्यन किया है और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) कार्यक्रम की मांग की है, अब 165 के सबसे खराब स्कोर पर है.
 
डिफॉल्ट से त्रस्त श्रीलंका और तुर्की दोनों ने 138 का स्कोर बनाया, जबकि चेक गणराज्य, पाकिस्तान और हंगरी ने क्रमश: 126, 120 और 100 का स्कोर बनाया.